स्वामी का जीवन छात्रों के लिए आदर्श जीवन के समान : देवेश निगम

****** अभाविप ने स्वामी विवेकानंद जयंती की पूर्व संध्या पर निकाली बुविवि में भव्य शोभा यात्रा ********छात्र-छात्राओं ने लिया बढ़-चढ़कर हिस्सा

0
453

झाँसी। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद झांसी महानगर द्वारा आज युवाओं के प्रेरणा स्रोत स्वामी विवेकानंद की जयंती की पूर्व संध्या पर बुंदेलखंड विश्वविद्यालय में भव्य शोभायात्रा का आयोजन किया गया। इस यात्रा में लगभग 500 छात्र एवं छात्राओं ने सहभागिता की।
बुंदेलखंड विश्वविद्यालय के अधिष्ठाता छात्र कल्याण प्रोफेसर दिवेश निगम एवं झाँसी विभाग संगठन मंत्री अजय यादव ने हरी झंडी दिखाकर विश्वविद्यालय के प्रमुख द्वार से शोभायात्रा को रवाना किया। शोभा यात्रा प्रमुख द्वार से प्रबंधन विभाग, पत्रकारिता और हिंदी विभाग होते हुए, अर्थशास्त्र, फूड साइंस भूविज्ञान, फार्मेसी, इंजीनियरिंग, आर्कि टेक्चर, विज्ञान भवन, लाइब्रेरी, आईटी, पर्यावरण विभाग, कृषि विभाग, समाज शास्त्र विभाग, एवं बॉयज हॉस्टल होते हुए विश्वविद्यालय परिसर में स्थित स्वामी जी की मूर्ति पर समाप्त हुई।

यात्रा के दौरान छात्रों द्वारा राष्ट्रभक्ति और देश प्रेम के नारों से विश्वविद्यालय का प्रांगण गुंजायमान हो उठा। यात्रा में छात्रों के साथ ही छात्राओं ने भी बड़ी संख्या में भागीदारी की। स्वामी की प्रतिमा स्थल पर अधिष्ठाता छात्र कल्याण प्रोफेसर दिवेश निगम, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद कि विभाग संगठन मंत्री अजय यादव के साथ ही अन्य संगठन के लोगों ने स्वामी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उनका आशीर्वाद लिया। प्रोफेसर देवेश निगम ने इस अवसर पर कहा कि स्वामी का जीवन छात्रों के लिए आदर्श जीवन के समान है। उन्होंने सांस्कृतिक राष्ट्रवाद की परिकल्पना को अपने जीवन का उद्देश्य बनाया। आज विद्यार्थी परिषद स्वामी जी के विचारों को लेकर आगे बढ़ रही है इससे निश्चित ही समाज के लिए बेहतर नागरिक तैयार हो सकेंगे। परिषद के सभी कार्यकर्ताओं की जिम्मेदारी है कि वह स्वामी जी के विचारों से जन-जन को अवगत कराएं।
विभाग संगठन मंत्री अजय यादव ने कहा कि राष्ट्र के लिए जिया गया जीवन ही बहुमूल्य जीवन है। स्वामी विवेकानंद ने युवाओं का आह्वान करते हुए कहा है कि उन्हें नए मार्ग का सर्जन करना है। लोगों रोकेंगे, प्रश्न उठाएंगे लेकिन अगर आप अपने मार्ग में अडिग रहकर सफलता प्राप्त करते हैं तो वही आलोचनात्मक लोग आपकी प्रशंसा और आपके मार्ग के अनुगामी बन जाएंगे। युवा चिन्हित रास्ते पर चलने के लिए नहीं बना है बल्कि उसे अपने नए रास्ते खुद बनाने हैं जो राष्ट्र को वैश्विक स्तर पर और आगे ले जा सके। इस अवसर पर राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य एवं बुंदेलखंड विश्वविद्यालय इकाई अध्यक्ष समरेंद्र प्रताप ने शोभायात्रा में सहभागी सभी का आभार व्यक्त किया।
इकाई मंत्री प्रतीक द्विवेदी ने कहा की आयोजन मैं सहभागिता के साथ ही हमें स्वामी जी के दिखाए हुए मार्ग पर अग्रसर रहने का आज प्रण लेना चाहिए। इस अवसर पर विभाग सह संयोजक मनेन्द्र गौर, जिला संयोजक अर्चित सोनी, जिला सह संयोजक आशुतोष उपाध्याय, छात्रा विस्तारक शिरोमणि, हिमांशु राय, अमृत राज पटेल, शिवम राजपूत, यशराज श्रृंगऋषि, शिवांगी श्रीवास्तव, नैंसी प्रजापति, अभिषेक परिहार, विकास नायक, कावेरी सिंह, खुशी दक्ष, शालिनी सिंह, आयुषी सिंह, हिमांशु पाल, रूपेंद्र राय, सुभाष पटेल, अंकित श्रीवास्तव, विजय राणा, सिद्धान्त, लकी, शिवम साहनी, सर्वेश, कृष्णा, अनुराग, देवेश, उत्कर्ष, आनन्द, रजनीश, दिव्यांशु, प्रशांत, आकाश नाग, कार्तिकेय, मंजीत, अमित यादव, शाकिर, अभिनव, अरमान, अमन गुप्ता, सचिन, प्रशांत कुशवाहा, प्रखर, सक्षम नायक, विकास नायक, हर्ष मिश्रा, शौर्य प्रताप, अविनाश यादव, जितेंद्र गुप्ता, शिवांशु नगायच, हरीश नगायच, आजेंद्र नायक, अमन खरे, गौरव कुशवाहा आदि छात्र उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY