मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना से युवाओं के सपने होंगे साकार:-जिलाधिकारी

*******************सभी वर्गो के प्रतिभावान व मेधावी छात्र-छात्राओं के लिये वरदान *********************** मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार करने के निर्देश

0
49

झाँसी। भारतीय संस्कृति वैज्ञानिक संस्कृति है, इसके पुनरोद्वार का समय आ गया है सभी अपनी भूमिका का निर्वहन करें। समाज के सभी लोग समर्पित और सशय होंगे तभी समाज का विकास होगा और वह मजबूत होगा। हम सभी में सीखने की प्रवृत्ति होनी चाहिए, यदि सीखने की कला नही है जो हम समाज का उद्वार नही कर सकेंगे। ज्ञान ही हमें शान्ति, आनंद और सुख देता है इसलिये मात्र ज्ञान अर्जन हो।
उक्त उद्गार जिलाधिकारी रविंद्र कुमार ने विकास भवन सभागार में मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अन्तर्गत जनपद के सभी वर्गो के प्रतिभावान व मेधावी छात्र-छात्राओं को विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु निशुल्क क्लासरुम प्रशिक्षण की सुविधान्तर्गत आयोजित बैठक में व्यक्त किये। उन्होने कहा कि भारत विश्व गुरु था, है और रहेगा। उन्होने कहा कि लोकतंत्र को व समाज को सशक्त करने के लिये सभी को समर्पित भाव और दृढ़ता से समाजहित में कार्य करना होगा तभी समाज विकसित होगा। जीवन को सार्थक करने के लिये कर्म को कर्मयोग बनाना होगा साथ ही सात्विक प्रवृत्ति को भी बढ़ाना होगा, तभी ज्ञान बढ़ेगा। उन्होने बैठक में उपस्थित अधिकारियों से कहा कि अब्बू जाए योजना में टीचर छात्र-छात्राओं से लक्ष्य निर्धारित करते हुये कार्य कराएं ताकि लक्ष्य की पूर्ति हो सके। उन्होने बताया कि अभ्युदय का आकार समग्र विकास, सबसे योग्य लोग आगे आये।
जिलाधिकारी ने कहा कि मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना में निशुल्क व्यवस्था होने के बाद यूपीएससी में102 छात्र-छात्राओं का पंजीकरण, नीट में 23 छात्र-छात्राओं का पंजीकरण और जेई में मात्र 07 ही पंजीकरण है, योजना में छात्र-छात्राओं की संख्या बहुत कम है। इसे बढ़ाये जाने के लिये लोगों को मोटीवेट करें, उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि योजना का जनपद के नगरीय और ग्रामीण क्षेत्र में व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए ताकि प्रतिभावान बच्चे आगे आएं और योजना का लाभ उठा सकें। प्रशिक्षण में प्रशिक्षित अध्यापक है, साथ ही आईएएस तथा पीसीएस अधिकारी भी क्लास में प्रशिक्षण देते है, उनका सभी लाभ उठायें। उन्होने कहा कि जिसने हाल में ही आईएएस/पीसीएस परीक्षा पास किया उसको भी क्लास में बुलाया जाये। इसके अतिरिक्त लेक्चर देने के लिए सर्वोत्तम टीचर का चयन करते हुए उन्हें भी क्लास में लेक्चर देने के लिए आमंत्रित भी किया जाए। उन्होंने सुझाव दिया कि जो प्रशिक्षण दिया जा रहा है उसे यू-टयूब पर अपलोड किया जाए और उसे सभी इण्टर कालेजों में उपलब्ध कराये ताकि शुरु से ही बच्चों में आईएएस व आईपीएस बनने की इच्छा हो।
मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना अंतर्गत जनपद झांसी में राजकीय इंटर कॉलेज में कक्षाएं प्रारंभ है, बैठक में कक्षाओं का समय साईं 3:00 से 6:00 करणी पर जिलाधिकारी ने सहमति दी ताकि अधिक से अधिक लोग योजना का लाभ उठा सके उन्होंने बैठक में उपस्थित अधिकारियों से भी अनुरोध किया कि वह भी कक्षाओं में लेक्चर देने अवश्य पहुंचे,जिससे बच्चे उनके अनुभव का लाभ उठा सकें। बैठक में सीडीओ शैलेष कुमार,सीएमओ डॉ. अनिल कुमार, अपर जिलाधिकारी नमामि गंगे संजय पांडेय, उप जिलाधिकारी सदर सान्या छाबड़ा, डीआईओएस कोमल सिंह यादव, प्रधानाचार्य पीके मौर्य, डॉ. सत्य प्रकाश गुप्ता सहित समाज कल्याण अधिकारी व अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY