उत्कृष्ट कार्य के लिए तीन रेल कर्मचारी सम्मानित

0
133

झाँसी। मंडल रेल प्रबंधक अशोक कुमार मिश्र द्वारा संरक्षा संबंधित उत्कृष्ट कार्य के लिए मंडल के तीन कर्मचारियों को सम्मानित किया गया। इसमें दो कर्मचारी परिचालन विभाग से तथा एक कर्मचारी इंजीनियिंरग विभाग से सम्मानित किए गए। इस अवसर पर अपर मंडल रेल प्रबंधक विनीत सिंह, वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबंधक शशि भूषण व वरिष्ठ मंडल इंजीनियर अजय सिंह उपस्थित रहे।
————————-

मृतक रेल कर्मचारियों के आश्रितों को दिया अंतिम भुगतान

झाँसी। झाँसी मंडल पर उत्तर मध्य रेल पर मृतक रेल कर्मचारियों के आश्रितों को अंतिम भुगतान के प्रपत्र (पेमेन्ट एडवाईज तथा पेंशन पेमेन्ट आर्डर) देने का समारोह आयोजित किया गया। इस समारोह में 9 परिवारों के आश्रितों को उपस्थित होने के लिए आमंत्रित किया गया था। जिसमें से सात के आश्रित इस समारोह में उपस्थित रहे। अपर मंडल रेल प्रबंधक विनीत सिंह ने उपस्थित आश्रितों को पेमेन्ट एडवाईज तथा पेंशन पेमेन्ट आर्डर वितरित किए। कुल रुपया 9617242 का भुगतान एनईएफटी के माध्यम से किया गया। इस अवसर पर वरिष्ठ मंडल वित्त प्रबंधक वी के तिवारी, मंडल कार्मिक अधिकारी उल्लास कुमार, वरिष्ठ मंडल कार्मिक अधिकारी मुदित चंद्रा आदि लोग उपस्थित रहे हैं।

———-

ओ पी सिंह ने संभाला प्रमुख इंजीनियर का पदभार

झाँसी। भारतीय रेल इंजीनियरिंग सेवा के अधिकारी ओ पी सिंह ने उत्तर मध्य रेलवे के प्रमुख इंजीनियर का पदभार ग्रहण किया। इसके पहले वह उप महाप्रबंधक पश्चिम मध्य रेलवे जबलपुर के पद पर कार्यरत थे। मालूम हो कि उक्त पद संजीव राय के स्थानांतरण से रिक्त हुआ था।
उत्तर मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी के मुताबिक सिंह भारतीय रेल इंजीनियरिग सेवा वर्ष 1983 के अधिकारी है। ओपी सिंह ने अपनी सिविल इंजीनियरिंग की पढ़ाई आईआईटी रुडकी से पूर्ण की। मार्च 2004 में वरिष्ठ प्रशासनिक ग्रेड में पदोन्नत हुए एवं डीएमआरसी में मुख्य इंजीनियर/ मुख्य सतर्कता अधिकारी/ मुख्य परियोजना प्रबंधक जैसे महत्वपूर्ण पदों पर मई 2011 तक प्रतिनियुक्ति पर रहे। इस दौरान इन्होंने 35 किमी मेट्रो लाइन की योजना, समन्वय एवं निर्माण संबंधी कार्य में संबंद्ध रहे। इसके अलावा हवाई अड्डों के लिए उच्च गति रेल लिंक करने, रेल एवं मेट्रो प्रणाली, निर्माण तकनीक एवं मशीनरी, भूमि का व्यवसायिक उपभोग, मंडल रेल प्रबंधक के कुशल नेतृत्व कार्यक्रम इत्यादि से संबंधित अध्ययन हेतु ओपी सिंह ने दस देशों का दौरा किया। ओ पी सिंह ने मध्य रेलवे में मंडल रेल प्रबंधक नागपुर के पद पर जनवरी -2014 से अप्रैल 2015 तक कार्य किया। इस दौरान इन्होंने आय एवं लोडिंग का अधिकतमकरण, कर्मचारी कल्याण, ग्राहक संतुष्टि एवं सिस्टम सुधार जैसे अनेकों उल्लेखनीय कार्य किए।

———

दोहरीकरण कार्य के लिए मार्ग रहेगा अवरुद्ध

झाँसी। झाँसी – कानपुर लाइन पर चिरगांव- नंदखास (मोठ) स्टेशन के मध्य में स्थित समपार फाटक संख्या 135 एवं 142 पर दोहरीकरण कार्य 19 से 20 मार्च को रात्रि दस बजे से प्रांत: पांच बजे तक किया जाना है। इस कारण उक्त अवधि में आवागमन हेतु मार्ग अवरुद्ध रहेगा।

LEAVE A REPLY