जेसीआई गूंज: बीमार को खून चाहिए, हमारे पास आइए

विश्व स्वास्थ्य दिवस के अवसर पर जेसी आई गूंज द्वारा एक अनोखी पहल

0
133

झांसी। आमतौर पर यह होता है कि हम लोग रक्‍तदान शिविर लगाकर लोगों को रक्‍तदान के प्रति जागरुक करते हैं और रक्‍तदान भी करवाते हैं। उसके बाद यह कहा जाता है कि जब आवश्‍यकता होगी, तो हमारे मरीज काेे खून मिल जाएगा, लेकिन ऐसा होता नहीं है। इसको देखते हुए अब हम रक्‍तदान के साथ ही ऐसे लोगों का एक समूह बना रहे हैंं, जाेकि समय पर किसी मरीज की आवश्‍यकता को देखते हुए रक्‍त दान कर उसका जीवन बचा सकें। उक्‍त विचार विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य दिवस मनाए जाने की रुपरेखा तय करते हुए जेसीआई गूंज की संगोष्‍ठी में सदस्‍या वक्‍ताओं ने व्‍यक्‍त किए।
जेसीआई गूंज द्वारा इस पहल काेे सार्थक करने के लिए एक रजिस्‍टर बनाकर रक्‍तदाताओं की सूची तैयार की गई अाैर उनके बारे में विवरण भी लिखा गया। इस कार्य कीी जिम्‍मेदारी पूर्व अध्‍यक्ष योगिता अग्रवाल को सौंपी गई। गूंज की चार्टर अध्यक्ष रेखा राठौर ने बताया कि यदि हमारी संस्था द्वारा किसी जरूरतमन्द की सहायता को तत्‍पर रहेगी और संस्‍था की सदस्‍यों का इस काम में सहयोग करना हमारे लिए गर्व की बात है। उन्होंने गूंज की अध्यक्ष दिव्या अग्रवाल की सोच की सराहना की, जो उनके द्वारा इतना अच्छा कार्यक्रम किया जा रहा है। इस मौके पर डॉ ममता दासानी, पूजा अग्रवाल, दीपाली अग्रवाल, बसुधा प्रेमानी, दीपाली दीप अग्रवाल आदि मौजूद रहे। सचिव निशु जैन द्वारा सभी का आभार व्यक्त किया गया।

आवश्‍यकता हाेेने पर करेंं इन नम्‍बरों पर सम्‍पर्क

गूंज की पूर्व अध्‍यक्ष्‍ा योगिता अग्रवाल ने बताया कि अभी यह सार्थक पहल की शुरूआत हुुुुई है और हमने दो दर्जन के आसपास लोगों को अपने साथ जोड़़ लिया है। उन्‍होंने कहा कि इसके लिए जो भी रक्‍तदान के लिए इच्‍छुक है, वह अपना विवरण हमको देकर अपना नाम लिखा सकता है। उसकी आवश्‍यकता होने पर सम्‍पर्क किया जाएगा। उन्‍होंने कहा कि रक्‍तदान से सम्‍बंधित कार्य के लिए इन मोबाइल नम्‍बरों 918299831469, 9918703570 पर सम्‍पर्क किया जा सकता है।

LEAVE A REPLY