विधालयोंं व आंगनवाड़ियों का औचक निरीक्षण करें अधिकारी : डीएम

0 उच्च प्राथमिक/प्राथमिक विद्यालयो एवं आंगनवाडी केन्द्रों का औचक निरीक्षण करने के निर्देश 0 सभी एसडीएम, बीडीओ एवं जनपदस्तरीय अधिकारी निरीक्षण आख्या जिलाधिकारी के समक्ष प्रस्तुत करेगे

0
217

झांसी। जिलाधिकारी शिव सहाय अवस्थी ने सभी उपजिलाधिकारियो, जिला स्तरीय अधिकारियो व खण्ड विकास अधिकारियो को निर्देश दिए है कि वे जब भी अपनी विभागीय योजनाओं एवं परियोजनाओं के क्रियान्वयन हेतु स्थलीय भ्रमण पर जाए, तो इसके साथ-साथ उच्च प्राथमिक/प्राथमिक विद्यालयो एवं आंगनवाडी केन्द्रों का भी औचक निरीक्षण करना सुनिश्चित करेंं। उन्होने एक चैकलिस्ट जारी करते हुए उपरोक्त सभी अधिकारियो को कड़़े निर्देश दिए है कि वे विद्यालयों व आंगनवाडी केन्द्रों का औचक निरीक्षण इसी चैकलिस्ट के अनुसार करके अपनी सुस्पष्ट आख्या/टिप्पणी उनके समक्ष प्रस्तुत करेंंगे।
जिलाधिकारी ने चैकलिस्ट के निर्धारित प्रारुप की जानकारी देते हुए बताया कि विद्यालयो के निरीक्षण के दौरान यह देखे कि विद्यालय में तैनात शिक्षकों की उपस्थिति, शिक्षामित्रों की उपस्थिति, अनुदेशकों की उपस्थिति, भौतिक परिवेश-भवन की स्थिति, रंगाई, पुताई, सफाई के साथ-साथ पंजीकृत छात्र की संख्या, उपस्थित छात्र की संख्या, पाठ्य पुस्तकों का वितरण एवं छात्रों में उपलब्धता, विद्यालय प्रबन्ध समिति की बैठक प्रतिमाह हो रही है अथवा नही, विद्यालय में भोजन नियमित रुप से मेनू के आधार पर दिया जा रहा है अथवा नही, बच्चों को निर्धारित मात्रा में भोजन दिया जा रहा है अथवा नही, क्या सीलबन्द घी/तेल, आयोडाईज्ड नमक व एग्मार्क मसालों का प्रयोग हो रहा है अथवा नही, भोजन बनाने के स्थान की सफाई संतोषजनक है अथवा नही, भोजन की गुणवत्ता की स्थिति, बाउन्ड्रीवाल है अथवा नही, विद्युतीकरण है अथवा नही, शुद्व पेयजल की उपलब्धता है अथवा नही, शौचालय की साफ-सफाई की स्थिति, गुणवत्ता युक्त यूनिफार्म का वितरण हुआ है अथवा नही, जूते मोजे/बैग का वितरण हुआ है अथवा नही की जानकारी टिप्पणी सहित देगे।
इसी प्रकार आंगनवाडी केन्द्रों के औचक निरीक्षण के दौरान आंगनबाडी केन्द्र का नाम, विकास खण्ड, आंगनबाडी कार्यकत्री/सहायिका का नाम व उपस्थिति का विवरण, कुल पंजीकृत बच्चे, कुल उपस्थित बच्चे, सामान्य बच्चों की संख्या, कुपोषित बच्चों की संख्या, अतिकुपोषित बच्चों की संख्या, लाभार्थियों के पुष्टाहार वितरण की स्थिति, उपलब्ध सामग्री का विवरण, क्या केन्द्र पर वजन मशीन उपलब्ध है, साफ-सफाई की स्थिति, शौचालयों की स्थिति, क्या केन्द्र पर पेयजल की व्यवस्था है, उपलब्ध पोषाहार वितरण की स्थिति, अभिलेखों की स्थिति, क्या आंगनबाडी केन्द्र पर बचपन दिवस, ममता दिवस एवं लाड़ली दिवस मनाया जा रहा है, क्या अति कुपोषित बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण कराया जा रहा है, क्या कुपोषण की रोकथाम हेतु प्रचार-प्रसार कराया जा रहा है, क्या केन्द्र पर ग्राम स्वास्थ्य एवं पोषण समिति सक्रिय है, क्या कुपोषण की रोकथाम हेतु केन्द्र द्वारा कोई अभिनव प्रयास किया जा रहा है, की जानकारी टिप्पणी सहित देगे।

LEAVE A REPLY