वर्दी का रोब: नकली है तो क्‍या हुआ

0
122

झांसी। पुलिस की वर्दी का रौब ही अलग हैै और वर्दी पहनने के बाद क्‍या रेलवे और क्‍या कोई और विभाग, कोई बोलनेे की हिम्‍मत नहीं कर पाता है। ऐसे में आम जनता की क्‍या बिसात है। एेेेेसा ही एक मामला सामने आया, जबकि रेलवे पुलिस ने एक फर्जी वर्दीधारी को देखा, जिसको देखकर उस पर संदेह हुआ और उसने पूछताछ में सच बोल ही दिया। इसके बाद उसको गिरफ्तार कर लिया गया।
जानकारी अनुसार रेलवे पुलिस जीआरपी को रेलवे स्‍टेशन पर चैकिंग के दौरान एक संदिग्‍ध उप निरीक्षक वर्दी पहने और सीआरपीएफ का बैच लगाए मिला। उक्‍त व्‍यक्‍ति के हावभाव पुलिस को देखकर बदलने लगे, शक होने पर रेलवे पुलिस ने उससे पूछताछ की, पूछताछ में ही वर्दीधारी के हाथ पांव फूल गए और उसने अपनी हकीकत बता दी। उसने बताया कि उसका नाम दीपक अहिरवार पुत्र दीना अहिरवार निवासी गोपाल पुरा थाना विजावर जिला छतरपुर म0प्र0 है। उसकी उम्र करीब 29 वर्ष है। वह वर्दी का गलत उपयोग करता रहा है, जिस पर रेलवे पुलिस ने उसको गिरफ्तार कर लिया और उसके खिलाफ कार्रवाई के लिए थाने ले जाया गया।

LEAVE A REPLY