मनुष्य झूठ बोल सकता है परन्तु साक्ष्य नही: डा. हर्ष शर्मा

0
626

झांसी। बुन्देलखण्ड विष्वविद्यालय परिसर में संचालित डा. ए.पी.जे.अब्दुल कलाम न्यायालयिक विज्ञान एवं अपराधशास्त्र संस्थान के तत्वावधान में द्वारा पूर्व राश्ट्रपति एवं देश के महान वैज्ञानिक डा.कलाम के 87वे जन्मदिन के उपलक्ष्य में 11 अक्टूबर से 15 अक्टूबर 2018 तक चार दिवसीय कार्यक्रम के अन्तर्गत विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। यह जानकारी आज संस्थान के समन्वयक डा.विजय यादव ने दी।
डा.यादव ने बताया कि इसी श्रृंखला में आज प्रथम दिन भूगर्भ विज्ञान विभाग के सभागार में एक विशिष्ट व्याख्यान में राज्य न्यायालयिक विज्ञान प्रयोगशाला, सागर. के निदेशक डा.हर्ष शर्मा ने एक व्याख्यान दिया। डा.शर्मा अपराध अन्वेषण में भौतिक साक्ष्यो की महत्ता प्रकाश डालते हुए कहा कि एक जीवित मनुष्य झूठ बोल सकता है और बोलता है लेकिन साक्ष्य कभी भी झूठ नही बोलते।
इस अवसर पर बुन्देलखण्ड विश्‍वविद्यालय के अधिष्ठाता विज्ञान संकाय प्रो.एमएम सिंह, अपराध अन्वेषण शाखा टीकमगढ़ के वैज्ञानिक अधिकारी डा. प्रदीप कुमार, डा. अनु सिंगला, डा. अंकित श्रीवास्तव, डा. कृति निगम, डा. चन्दन नामदेव, डा. मुरली मनोहर यादव उपस्थित रहे। समन्वयक डा. यादव ने बताया कि 12 अक्टूबर को प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता, 13 अक्टूबर को वाद विवाद प्रतियोगिता का आयोजन होगा। जबकि 15 अक्टूबर रक्तदान शिविर का आयोजन किया जायेगा। डा. यादव ने विष्वविद्यालय परिसर के अधिक से अधिक छात्र-छसात्राओं को प्रतियेागिताओं में प्रतिभाग करने की अपील की।

LEAVE A REPLY