गाँव की नारी अब नहीं रहेगी बेचारी

महिला सशक्तिकरण की दिशा में गूंज ने तय किया लक्ष्य

0
234

झाँसी। हमेशा की तरह गूंज की नयी अध्यक्ष ने इस बार एक कठिन लक्ष्य तय किया है, जिसके तहत गाँव की नारी अब बेचारी नहीं कहलायी जाएगी। महिला सशक्तिकरण की दिशा में जेसीआइ झांसी की गूंज संस्था की अध्यक्ष स्वलेहा खान एक पत्रकार वार्ता मे बताया कि वह नारी सशक्तिकरण के लिए आसपास के गांव में महिलाओं को शिक्षित करना और उनको रोजगार उपलब्ध कराना। उन्हें खुद के पैरों पर खड़ा करना। गूंज का लक्ष्य होगा।
उन्होने बताया कि गरीब बच्चे जो कि संसाधनों के अभाव में पढ़ाई ना कर पा रहे हैं। उनके लिए डेली बेसिस पर क्लासेस अरेंज करना तथा उनका स्कूल में दाखिला कराना जैसे कार्यों को इस बार का लक्ष्य बनाया गया है। इस दौरान पूर्व अध्यक्ष योगिता अग्रवाल, संस्थापक अध्यक्ष रेखा राठौर ने अपने विचार व्यक्त किए। नव निर्वाचित अध्यक्ष ने सामूहिक विवाह मुक्ताकाशी मंच के पीछे स्थित धोबी घाट पर मरीजों को सुरक्षा की जगह संक्रमण परोस रहा है। उसके लिए उन्होंने एक पुख्ता कार्यक्रम निर्धारित किया है। इसके बाद जेसीआई गूंज द्वारा झांसी के एक स्थानीय होटल में क्रिसमस पार्टी का आयोजन किया, जिसका मुख्य उद्देश्य सन 2018 के जाने एवं 2019 के आगमन मौका था। सभी सदस्यों ने मिलकर सन 2018 को बाय-बाय कहा एवं आने वाले साल का खुशियां बांटकर स्वागत किया। इस दौरान नए मेंबर्स का स्वागत खुशियों के साथ किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता सन 2018 की अध्यक्ष जेसी दिव्या अग्रवाल और 2019 की अध्यक्ष जेसी स्वलेहा खान द्वारा संयुक्त रूप से की गई। कार्यक्रम में नए सदस्यों का परिचय राउंड, रैंप वॉक के साथ अनेक तरह के गेम्स से सजी शाम अलग ही आकर्षण बिखेर रही थी। कार्यक्रम में जेसी स्वलेहा खान ने अपनी नवनिर्वाचित टीम का स्वागत किया, जिसमें सचिव अंकिता वर्मा एवं कोषाध्यक्ष नेहा अंकुर अग्रवाल चुनी गई। संचालन जेसी नीतू पटवा एवं जेसी माला मल्होत्रा द्वारा किया गया। कार्यक्रम की रूपरेखा संस्थापक अध्यक्ष एवं पूर्व अध्यक्ष जैसी योगिता अग्रवाल एवं जेसी रेखा राठोर के सानिध्य में बनाई गई।
मुख्य आकर्षण गूंज क्वीन का रहा। जिसमे नेहा अग्रवाल, दीपा अग्रवाल एवं विनीता सरावगी ने गूँज क्वीन का खिताब जीता। इस मौके पर सुनीता अग्रवाल, ममता दसानी, रेनू, रचना, पूजा अग्रवाल, प्रीति अग्रवाल, नीति बहेल, नेहा विजयवर्गीय, कल्पना नारवनी, अल्पना खण्डेलवाल उपस्थित रहे। सचिव वसुधा प्रेमानी ने आभार व्यक्त किया ।

LEAVE A REPLY