मासूम बच्ची को चुराकर भाग रही महिला पकड़ी

0
40

झाँसी। कोतवाली थाना क्षेत्र के देवलाल चौबे का अखाड़ा के पास से एक वृद्धा ने घर से डेढ़ माह की बच्ची को चोरी कर लिया। बाद में पुलिस की सक्रियता के चलते अपहृत मासूम बच्ची को बरामद कर लिय। इस मामले में अपहृता महिला को गिरफ्तार कर लिया। उक्त महिला ने भीख मांगने वाली बनकर घटना को अंजाम दिया है।
कोतवाली थाना क्षेत्र के स्वामीपुरम कॉलोनी निवासी आरती ने बताया कि उसकी लड़की निशा की शादी अमर से हुई थी, जो पास में ही रहती है। पति बैण्ड बजाने का कार्य करता है और बेटी घरों मेें साफ सफाई का। निशा काम पर जाने से पहले अपने बेटी करुणा को उसके यहां छोड़ जाती है। उसने बताया कि शाम के वक्त एक भिखारिन उसके यहां भीख मांगने आयी थी। भिखारिन के जाते ही उसकी नातिन करूणा गायब हो गई। काफी खोजने के बाद जब पता नहीं चल सका तो पुलिस को सूचना दी गई।

कुछ ही घंटे में बरामद हो गई मासूम

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ ओ पी सिंह ने बताया कि कोतवाली पुलिस को सूचना मिली कि एक महिला ने डेढ़ माह की बच्ची को अगवा कर लिया। इस सूचना पर कोतवाली पुलिस सक्रिय हो गई। तभी सूचना मिली कि नईबस्ती के पास स्थित बड़ी ईदगाह के पास एक महिला खड़ी हुई है, वह कपड़े में बच्चे को बांधे हुए है। इस सूचना पर कोतवाली पुलिस वहां पहुंची और उक्त महिला को बच्ची समेत पकड़ लिया। उसे थाना लाया गया। वहां बच्ची के परिजनों को बुलाया गया। वहां पर परिजनों ने बच्ची की पहचान की। इसके बाद उक्त महिला से पूछताछ की। पूछताछ के दौरान उक्त महिला ने अपना नाम मेहतर कॉलोनि रेलवे कम्‍पाउण्‍ड व मूल निवासी स्टेशन बजारिया मदन महाराज भोपाल निवासी इन्द्राबाई मेहतर बताया। महिला को पकड़ने वाली टीम में कोतवाली प्रभारी निरीक्षक संजय सिंह, निरीक्षक कमलेश कुमार, हेड कौंस्टबल शिवकरन व कांस्टेटबल आशा देवी शामिल रही।

गैंग का पता लगाने का होगा प्रयास

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ ओ पी सिंह ने बताया कि कोतवाली थाना क्षेत्र से एक ओर बच्चा गायब है। इसके लिए टीम बनाई गई है। यह टीमें बच्चा चोर करने वाले गिरोह का पता लगाने का प्रयास कर रही है। उनका कहना है कि पकड़ी गई महिला का भोपाल से पता लगाने का पूरा प्रयास किया जा रहा है। यह महिला शातिर है। इस महिला का गैंग भी हो सकता है। गैंग बनाकर ही बच्चा चोरी करती है। इसी तरह रेलवे स्टेशन से भी प्रिस गायब हुआ था। कुछ दिनों बाद उसे दतिया से बरामद कर लिया गया था।

LEAVE A REPLY