बुविवि को अनुदान देने की मांग मुख्यमंत्री से करेगा बूटा

0 बीएड संस्थान के अध्यक्ष नियुक्त होने पर डॉ. पुनीत बिसारिया को दी बधाई।

0
57

झाँसी। बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय के शिक्षकों के संगठन बूटा की बैठक अध्यक्ष प्रो आरके सैनी की अध्यक्षता में हुई जिसमें सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया गया कि बुंदेलखंड विश्वविद्यालय के अंतर्गत आने वाले सात जिलों में रहने वाले लोगों को शिक्षा देने के लिए यही एकमात्र केंद्र है एवं इस विश्वविद्यालय को सरकार के द्वारा कोई भी वित्तीय अनुदान नहीं दिया जाता है, अतः सरकार कम से कम नियमित शिक्षकों एवं गैर शैक्षणिक कर्मचारियों का वेतन देने का प्रावधान करें ताकि विश्वविद्यालय सही प्रकार से चल सके। उपरोक्त के अनुक्रम में यह भी निर्णय लिया गया कि बूटा का एक प्रतिनिधिमंडल शीघ्र ही उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री एवं उच्च शिक्षा मंत्री प्रो. दिनेश शर्मा से इस संदर्भ में वार्ता करने के लिए जाएगा एवं एक ज्ञापन देगा। यह भी निर्णय लिया गया कि शिक्षकों को चिकित्सा अवकाश न मिलने के कारण अत्यधिक असुविधा होती है चिकित्सा अवकाश की व्यवस्था भी लीव रूल्स के अंतर्गत की जाए। बैठक में डॉ पुनीत बिसारिया को बीएड संस्थान का अध्यक्ष नियुक्त किये जाने पर उन्हें बधाई दी गई और कामना की गयी कि डॉ बिसारिया के नेतृत्व में बीएड संस्थान प्रगति के पथ पर अग्रसर होगा एवं अकादमिक उत्कृष्टता के नवीन प्रतिमान स्थापित करेगा। बैठक में डॉ श्रीहरि त्रिपाठी को बिहार के छपरा स्थित जयप्रकाश विश्वविद्यालय में सहायक प्रोफेसर पद पर चयनित होने पर बधाई दी गई। उल्लेखनीय है कि डॉ श्रीहरि त्रिपाठी ने बिहार लोक सेवा आयोग की परीक्षा में पूरे बिहार राज्य में तीसरा तथा जयप्रकाश विश्वविद्यालय की मेरिट सूची में प्रथम स्थान अर्जित किया है।
बैठक में प्रो प्रतीक अग्रवाल, डॉ डीके भट्ट, डॉ मुन्ना तिवारी, डॉ पुनीत बिसारिया, डॉ आलोक वर्मा, डॉ ऋतु, डॉ महेंद्र कुमार, डॉ विनीत कुमार, डॉ श्रीहरि त्रिपाठी, डॉ एम एम सिंह एवं डॉ अतुल गोयल आदि उपस्थित थे। बैठक का संचालन बूटा महासचिव डॉ डीके भट्ट ने किया तथा डॉ अतुल गोयल ने सभी के प्रति आभार जताया।

LEAVE A REPLY