राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवक होते हैं विशिष्ट: प्रो.देवेश निगम

0
53

झांसी। राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवक वस्तुतः एक विशेष व्यक्ति होते है तथा वे अन्य विद्यार्थियों से अलग होते हैं। उनकी विशिष्टता तथा समाज के प्रति कार्य करने की प्रतिबद्धता उन्हें अपने साथ के अन्य विद्यार्थियों से अलग करती है। यह विचार आज बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय के अधिष्ठाता छात्र कल्याण प्रो.देवेश निगम ने व्यक्त किए। प्रो.देवेश निगम आज नगर के राजकीय पाॅलिटेक्निक परिसर में बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय की राष्ट्रीय सेवा योजना की प्रथम, चतुर्थ, एवं सप्तम इकाई के संयूुक्त रूप से आयोजित विशेष शिविर में स्वयंसेवकों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मनुष्य में मनुष्यता के गुणों को विकसित करने का नाम ही समाज सेवा है। उन्होंने स्वयंसेवकों का आव्हान किया कि वे पूरी निष्ठा ओर मेहनत से शिविर के कार्यों को पूरा करें ताकि वे अपने भावी जीवन में समाज सेवा के क्षेत्र में अपना नाम रोशन कर सकें। डा.निगम ने कहा कि हमारे देश में नागरिक तो करोडों में हैं, परन्तु आदर्श नागरिक बहुत ही कम है, स्वयंसेवक दन शिविरों के माध्यम से आमजन को आदर्श नागरिक बनाने का कार्य कर सकते हैं।
विशिष्ठ अतिथि बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय परिसर में संचालित में पत्रकारिता संस्थान के पूर्व विभागाध्यक्ष डा.सी.पी. पैन्यूली ने कहा कि राष्ट्रीय सेवा योजना के इस विशेष शिविर में शिविरार्थी अपने अन्य सहयेागियों के साथ साहचर्य का पाठ पढाया सीखते हैं सामाजिकता के गुणों को सीखते हैं, जो हमें अच्छा नागरिक बनाने में मद्द करती हैं। उन्होंने कहा कि जिस किसी भी स्थान पर जहां राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवक पहुंचते हैं वह स्थान स्वच्छ और निर्मल हो जाता है। आज के कार्यक्रम के प्रारंभ में चतुर्थ ईकाई के कार्यक्रम अधिकारी डा.जितेन्द्र बबेले ने आमंत्रित अतिथियेां को स्वागत करते हुए शिविर के उद्देश्यों पर प्रकाश डाला तथा बताया कि शिविर में शिविरार्थियांे की दिनचर्या प्रातः छहः बजे योग के कार्यक्रम से से प्रारंभ होती है। उन्होंने बताया कि जिस दिन शिविर प्रारम्भ हुआ उस दिन शिविर क्षेत्र गन्दगी से पटा पडा था परन्तु शिविरार्थियों ने न केवल उसे रहने लायक बनाया बल्कि आशा जताई कि शिविरार्थियों के द्वारा इस क्षेत्र के अतिरिक्त आसपास के क्षेत्रों अन्य में भी सफाई हो जायेगी।
प्रथम ईकाई के कार्यक्रम अधिकारी डा.यतीन्द्र मिश्रा ने कहा कि शिविर में स्वच्छता कि अतिरिक्त शिविरार्थियों के द्वारा आसपास के क्षेत्र के निवासियों को पाॅलिथीन का प्रयेाग न करने हेतु जागरूक करने का प्रयास किया जायेगा। उन्हांेने जानकारी दी कि इस सम्बन्ध में राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवकों के द्वारा कल प्रातःकाल पाॅलिथीन का प्रयोग न करने के प्रति इस क्षेत्र के निवासियों को जागरूक करेगी जागरूक करने हेतु इलाइट चैराहे से एक रैली निकाली जायेगी। कार्यक्रम के अंत में सप्तम ईकाई की कार्यक्रम अधिकारी डा.शिल्पा मिश्रा ने आमंत्रित अतिथियों का आभार व्यक्त किया।

LEAVE A REPLY