लोक सभा चुनाव: व्हाट्स अप पर राजनीति करना पड़ेगा भारी

0 पेड न्यूज पर रखी जाएगी नजर, होगा बारीकी से अध्ययन 0 फर्जी आईडी लेकर पत्रकारिता करने वालों पर होगी कार्रवाई

0
63

झांसी। पेड न्यूज पर सख्त नजर रखी जाये, बारीकियों से समाचारों का अध्ययन किया जाये। व्हाट्स अप गु्रप पर यदि कोई राजनैतिक टिप्पणी करता है, तो कार्यवाही की जायेगी। फर्जी आईडी लेकर पत्रकारिता करने वालों के खिलाफ थाना क्षेत्रवार कार्यवाही की जाये। जांच दल द्वारा चैकिंग के दौरान शालीनता का परिचय दें, किसी भी प्रकार दुव्र्यहार नहीं होना चाहिये। आरओ, एआरओ व फ्लाइंग स्क्वायड ही एफआईआर दर्ज करायेगा। अन्य कोई एफआईआर दर्ज नहीं करा सकेगा। 50 हजार तक धनराशि प्राप्त होने पर कोई कार्रवाई नहीं की जायेगी, यदि जांच के दौरान 50 हजार से अधिक राशि प्राप्त होगी तो ले जाने वाले को रिकार्ड देना होगा। अन्यथा उक्त राशि कोषागार में जमा करा दी जायेगी। प्रचार सामग्री पर पब्लिशर (मुद्रक) का नाम व मोबाइल नं. होना आवश्यक है यदि पम्पलेट, बैनर आदि में नहीं है, तो उक्त सामग्री सीज कर दी जायेगी। बैरियर पर सीसी टीवी कैमरे लगाये जायेंगे और गांधी सभागार कलैक्ट्रेट को कन्ट्रोल रूम बनाया जायेगा जहां सभी बैरियर की गतिविधियों को देखा जायेगा। यह निर्देश जिलाधिकारी शिवसहाय अवस्थी ने विकास भवन सभागार में निर्वाचन व्यय अनुवीक्षण पर मीटिंग/प्रशिक्षण के दौरान उपस्थित पुलिस अधिकारी व टीम के सदस्यों को दिये।

उन्होंने कहा कि जैसे ही निर्वाचन की अधिसूचना जारी होती है तत्काल सभी टीमें एक्टिवेट हो जायेंगी। आदर्श आचार संहिता की घोषणा होते ही कार्य प्रारम्भ हो और किया जा रहा कार्य दिखायी भी दे। उन्होंने निर्वाचन व्यय अनुवीक्षण तंत्र, व्यय प्रेक्षक, सहायक व्यय प्रेक्षक, वीडियो निगरानी टीम, वीडियो अवलोकन टीम, लेखा टीम, शिकायत अनुवीक्षण नियंत्रण कक्ष और काॅल सेंटर, मीडिया प्रमाणन एवं अनुवीक्षण समिति एवं पेड न्यूज, उड़न दस्ते, स्टैटिक निगरानी टीम, व्यय अनुवीक्षण प्रकोष्ठ तथा आदर्श आचार संहिता का बिन्दुवार पाठ पढ़ाया और कहा कि निष्पक्ष, पारदर्शी और सुचिता से कार्य करेंगे तो कोई भी समस्या नहीं होगी। इसके अलावा जो लिटरेचर आपको भारत निर्वाचन आयोग द्वारा दिया जा रहा है, उसे गंभीरता से पढ़ लें ताकि निर्वाचन के दौरान कोई समस्या न हो।
निर्वाचन व्यय अनुवीक्षण प्रशिक्षण में एसएसपी डा. ओपी सिंह ने कहा कि टीम सदस्य आपस में अपने मोबाइल नम्बर एक्सचेंज कर लें ताकि संवाद सहज हो सके। उन्होंने उपस्थित पुलिस अधिकारियों से कहा कि फर्जी आईडी लिये मीडिया कर्मियों पर कार्यवाही की जाये। साथ ही उन पर सतत् निगाह रखी जाये। विभिन्न व्हाट्स अप ग्रुप संचालित हो रहे हैं, मीडिया सेल से निगाह रखी जा रही है यदि कोई आपत्तिजनक खबर प्रचारित होती है, तो कार्यवाही की जाये। क्षेत्र के थानाध्यक्ष विशेष सतर्क रहते हुये ऐसे तत्वों पर नजर रखें।
अपर जिलाधिकारी बी. राम ने प्रशिक्षण देते हुये कहा कि आम सभा हेतु अनुमति पहले आओ पहले पाओ के आधार पर दिया जाना है। स्टार प्रचारक का पूरा भाषण रिकार्ड किया जाये। पीएसटी कार्यक्रम स्थल पर पहले पहुंचेगी और कुर्सी, पण्डाल, कट आउट, होर्डिंग्स, बैनर, गाड़ियों सहित जनता की रिकार्डिंग करेगी ताकि व्यय निर्धारण करने में पीवीटी को कोई परेशानी न हो। अधिसूचना जारी होते ही प्रचार प्रसार सामग्री को हटाया जाना है। उन्होंने बताया कि आरओ, एआरओ व फ्लाइंग स्क्वायड ही एफआईआर दर्ज करा सकेंगे। इस मौके पर एडीएम नगेन्द्र शर्मा, एसपी ग्रामीण राहुल मिठास, एसपी सिटी श्रीप्रकाश द्विवेदी आदि उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY