भू माफियाओं पर सख्‍ती से हो कार्रवाई – प्रमुख सचिव

थाने में फरियादियों की शिकायतें को संवेदनशील होकर सुनें - निरीक्षण में प्रमुख सचिव ने दिए निर्देश

0
87

झाँसी। थाने पर आने वाले फरियादियों की शिकायतों को संवेदनशील होकर सुना जाए और गुणवत्तापरक निस्तारण किया जाए। प्रदेश में भूमि विवाद का निस्तारण श्रावस्ती मॉडल के द्वारा किया जाना है। अतः जो टीम थाने स्तर पर तैयार की जाए उनमें अनुभवशील को प्राथमिकता दी जाए। भू माफियाओं पर सख्ती से कार्रवाई हो तथा एंटी भू माफिया पोर्टल पर उसे अपलोड किया जाए। जनपद में हो रहे निर्माण कर अपनी घोषित तिथि में ही पूर्ण हों ताकि नागरिकों को उसका लाभ प्राप्त हो सके। निर्माण कार्यों में गुणवत्ता के साथ कोई समझौता नहीं किया जाएगा। निर्माण डिजायन के अनुसार व नियमत: तैयार किया जाए। यह निर्देश प्रमुख सचिव सिंचाई सुरेश चंद्रा ने थाना रक्सा, बुंदेलखंड विश्वविद्यालय में निर्मित नवीन कंप्यूटर सेंटर एवं एनीमल रिसर्च सेंटर के निर्माण कार्यों के निरीक्षण करते हुए दिए।
प्रमुख सचिव सुरेश चंद्रा ने थाना रक्सा में गार्ड ऑफ ऑनर लिया तथा थाने का निरीक्षण कर सफाई व्यवस्था को देखा। उन्होंने सफाई व्यवस्था पर संतोष जताते हुए एंटी भू माफिया रजिस्टर का निरीक्षण किया। उन्होंने निर्देश दिए की सरकारी भूमि पर यदि किसी द्वारा कब्जा है तो उसे हटाया जाए और सख्त कार्रवाई की जाए। घटना की खबर मिलते ही तत्काल घटनास्थल पर पहुंचें ताकि हालात काबू में रखकर आरोपी को भी जल्दी पकड़ा जा सके। बुंदेलखंड विश्वविद्यालय में सीएण्डडीएस द्वारा 350 लाख रुपये लागत से बनाए जा रहे एनीमल रिसर्च सेंटर को देखा। बताया गया कि अभी तक 291.75 लाख रुपये व्यय कर 80 प्रतिशत काम पूर्ण कर लिया गया है। संपूर्ण कार्य मार्च 2018 तक पूरा कर लिया जाएगा। प्रोजेक्ट मैनेजर एमके गुप्ता ने बताया कि भवन का कार्य आरसी सीफ्रेम स्ट्रक्चर पर बनाया जा रहा है जिसमें भवन की छत ढलाई, ब्रिक वर्क की चिनाई आदि कार्य कर लिया गया है।
निरीक्षण के समय जिलाधिकारी कर्ण सिंह चौहान, एसएसपी जेके शुक्ला, सीडीओ ए दिनेश कुमार, नगर मजिस्ट्रेट सीपी तिवारी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY