दूधमूहि बच्ची को माॅ ने फेंका सिटी चाइल्ड लाइन ने दिया सहारा

0
46

झांसी । जन्म देने बाली माॅ ने जरूर मासूम को खेत में फेंक दिया लेकिन और भी माॅ है जो इस नवजात बच्चे का ध्यान रखा है मेडीकल काॅलेज में इस लावारिस बच्ची को डाॅक्टरों व नर्सो का इतना प्यार मिला की उसे एहसास भी न होने दिया किस तरह उसके साथ बेरूखी दिखाई।
सिटी चाइल्डलाईन समन्वयक अमरदीप बमोनिया ने बताया कि निक्कू बार्ड से पता चला कि पिछले माह को यह नवजात शिशु राठ के पास से खेत में पडा मिला था जब लोगो ने देखा तो पुलिस को सूचना दी बच्ची को गांव की आशा बहू ने अपने संरक्षण में लिया सूचना मिलते ही जिले के जिलाधिकारी के आदेश पर बच्ची को आशा बहू व पुलिस द्वारा झांसी मेडीकल कालेज लेकर आये जिसका इलाज निक्कू बार्ड में चलता रहा।
सिटी चाइल्ड लाइन को सूचना मिलते ही नवजात शिशु को सरक्षण में लेने के लिये पहुचें लेकिन डाक्टरो द्वारा बताया गया था कि अभी बच्ची स्वास्थ्य स्थिति में नही है जिस पर चाइल्ड लाइन टीम बच्चे का लगातार मेडीकल काॅलेज में जाकर बच्चे का फलोअप करते रहे बुधवार को मेडीकल कालेज झांसी से फोन आया बच्ची स्वास्थ्य स्थिति में है सिटी चाइल्ड लाइन टीम से हिमांशु विमल व सोनिया पस्तोर तत्काल मेडिकल कॉलेज के निक्कू बार्ड पहुँची और नवजात शिशु को डिस्चार्ज कराया बच्ची को अपने संरक्षण में लिया। तत्काल जिले की बाल कल्याण सिमिति को सूचना दी और बच्चे को बाल कल्याण समिति में पेश किया। बाल कल्याण समिति के आदेश अनुसार बच्चे को शिशु विहार आश्रह ग्रह झांसी भेजा गया। सिटी चाइल्डलाइन संयोजक अमरदीप वमोनिया ने बताया यदि झांसी जिले में किसी को संकटग्रसित, गुमशुदा, आश्रयविहीन एवं गुमराह बच्चे के बारे में कोई जानकारी मिले तो परमार्थ समाज सेवी संस्थान द्वारा संचालित सिटी चाइल्डलाइन 1098 पर तत्काल सूचना दें जिससे समय रहते बच्चे को संरक्षण प्रदान किया जा सके।

LEAVE A REPLY