सांसद से सम्‍मान पाकर किसान हुए गदगद

0
84

झाँसी। बुन्देलखण्ड किसान मोर्चा के तत्वावधान में किसान गोष्ठी एवं नव निर्वाचित सांसद अनुराग शर्मा का सम्मान समारोह आयोजित किया गया. इस गोष्ठी में लगभग 60 गावों के 250 किसान उपस्थित रहे। कार्यक्रम का आरम्भ, बुन्देलखण्ड किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष महेंद्र शर्मा एवं अन्य लोगों के द्वारा सांसद अनुराग शर्मा के स्वागत से हुआ।
इस गोष्ठी के विशिष्ठ अतिथि झाँसी सदर विधायक रवि शर्मा एवं पुलिस अधीक्षक ग्रामीण राहुल मिठास, मंच पर पेट्रोलियम संघ के प्रमुख राजीव बब्बर, अखिलेश गुप्ता, संतोष पचौरी-एडवोकेट, नीलू, रहीश यादव रहे। गोष्ठी का उद्देश्य बुन्देलखण्ड के किसानों का अपने सांसद एवं अन्य उपस्थित अतिथियों के साथ सीधा सम्वाद स्थापित कराना तथा नए सांसद को किसानों की समस्याओं से अवगत कराना था। कार्यक्रम में किसानों के सवालों के उत्तर देते हुए अनुराग शर्मा ने कहा कि अन्ना प्रथा रोकने के लिए समुचित सार्थक प्रयास किये जायेंगे तथा शासन के साथ मिलकर इसका कोई पूर्ण समाधान निकाला जायेगा। एक सवाल का उत्तर देते हुए उन्होंने कहा की वर्ष १९७० की भारत पाक युद्ध के दौरान बबीना ब्लाक के किसानों की अधिकृत भूमि के बदले मिली भूमि के नामांतरण में जो भी कमियां रह गयी हैं उनकी पूरी जानकारी जुटा कर उस के निवारण हेतु शीघ्र ही ठोस कदम लिए जायेंगे।

चुनावों के दौरान उनका किसानों को किया वादा याद दिलाते हुए अनुराग शर्मा ने कहा कि जो भी किसान एलोवेरा, सफ़ेद मूसली, आंवला, आदि की फसल उनकी संस्था बैद्यनाथ को देना चाहते हों, उन्हें उनकी फर्म उचित मूल्य पर खरीद लेगी. बबीना ने निकली दतिया नहर के पानी को उत्तर प्रदेश के किसानों को उपयोग न कर पाने की समस्या पर उन्होंने कहा कि ये दो प्रदेशों के बीच का उलझा मामला है मगर फिर भी इसके समाधान के लिए रास्ता निकाला जायेगा। कार्यक्रम के दौरान जब किसान अपने सांसद के स्वागत हेतु मंच की ओर बढ़ने लगे तो अनुराग शर्मा स्वयं मंच से नीचे उतर आये और वहां उपस्थित प्रत्येक किसान के पास गए, उनसे व्यतिगत तौर पर मिले उनका हालचाल पुछा तथा उनसे पुष्प गुच्छ प्राप्त किये। सांसद के इस व्यवहार से सभी किसान बहुत प्रभावित दिखे तथा उन्होंने अनुराग शर्मा की बहुत प्रशंसा की। इस दौरान देखा गया कि बहुत से किसानों को अनुराग शर्मा ने नाम से सम्बोधित किया, इन किसानों से वो चुनाव प्रचार के दौरान मिले थे और वो उन्हें पहचान गए थे, इस बात को भी उपस्थित किसानों ने बहुत पसंद किया। अंत में आभार कार्यक्रम के अध्यक्ष महेंद्र शर्मा ने व्यक्त किया।

LEAVE A REPLY