भारतीय संस्कृति के आदर्श अपनाकर सशक्त भारत का निर्माण करें युवाः-कुलपति

राष्ट्रीय एकीकरण शिविर- 2017-18 में हुई प्रेरक, बौद्धिक संगोष्ठी

0
132

झांसी। बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 सुरेन्द्र दुबे ने संपूर्ण भारत से आये एन0सी0सी0 कैडिटों से अपील करते हुए कहा कि वे इस राष्ट्रीय शिविर के मूल उद्देश्‍य पारस्परिक अंतरगंता, विविधिता एवं चारित्रिक निर्माण के बल पर ’’वसुधैव कुटम्बकम’’ के ध्‍येय आदर्श अपनाकर एक सशक्त एवं समृद्ध भारत का निर्माण करें। प्रो0 दुबे आज एनसीसी निदेशालय उ0प्र0 लखनऊ के अधीन एनसीसी ग्रुप मुख्यालय, कानपुर की अधीनस्थ इकाई 56 उ0प्र0 बटालियन एन0सी0सी0 सीजी लाइन, लालकुर्ती रेलवे क्रासिंग, झांसी के तत्वावधान में चल रहे ’’राष्ट्रीय एकीकरण शिविर’’ 2017-18 के तीसरे दिन के प्रथम सत्र में मुख्य अतिथि के रूप शिविर के प्रशिक्षणार्थी एन.सी.सी कैडेट्स को सम्बोधित कर रहे थे।
कुलपति ने सम्पूर्ण भारत के विभिन्न कोने से प्रतिनिधित्व कर रहे एनसीसी कैडिटों को बुन्देलखण्ड के इतिहास, साहित्य एवं संस्कृति के बारे में विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने कहा कि बुन्देलखण्ड की यह वीर प्रसूता भूमि के जर्रे-जर्रे में वीरता की गाथायें भरी पड़ी हैं। विंध्यवासिनी देवी के प्रताप से आच्छादित यह भूखण्ड वीर सिंह, जुझार सिंह, छत्रसाल, गुलाम गौस खां, एवं रानी लक्ष्मी बाई के गौरवशाली इतिहास एवं संस्कृति को अपने आंचल में समेटे हुये है। कवि कुल शिरामणि केशव, ईसुरी, वृंदावन लाल वर्मा तथा राष्ट्रकवि की उपाधि से विभूषित मैथिली शरण गुप्त का साहित्य सदैव से ही राष्ट्रीय एकता एवं अखण्डता का परिचायक रहा है। भारतीय पुरातत्व एवं आध्यात्मिकता से परिपूर्ण यह परिक्षेत्र रामराजा सरकार के राज्य के रूप में भी सुविख्यात रहा है।
शिविर के द्वितीय सत्र में ले0कर्नल मोना दुबे, एस एच ओ, झांसी कैन्ट द्वारा स्वास्थ्य एवं सफाई विषय पर कैडिटों को सम्बोधित किया गया एवं गर्ल्स कैडिटों को अलग से स्वास्थ्य समस्याओं के बारे में बताया गया। शिविर में आये कैडिटों ने सेना द्वारा आयोजित कराई गई मिनी मैराथन दौड़ में भाग लिया गया उक्त के अतिरिक्त शिविर में लाइन ले आउट प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसमें प्रथम स्थान तमिलनाडू, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश निदेशालय ने क्रमशः प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान पर रहे जबकि ग्रुप में लखनऊ ,कानपुर तथा आगरा ने क्रमशः प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्िान प्रएाप्त किया।
इस अवसर पर कैम्प कमाण्डैन्ट ब्रिगेडियर पी एम रथ, ग्रुप कमाण्डर, एन0सी0सी0 ग्रुप मुख्यालय कानपुुुर डिप्टी कैम्प कमाण्डैंट कर्नल बी0 के पालीवाल, कैम्प प्रशासनिक/वित्त अधिकारी ले0 कर्नल शैलेन्द्र सिंह, कैम्प प्रशिक्षण अधिकारी ले0 कर्नल ए0 एस0 गौतम, ले0 कर्नल सतेन्दु महाजन, कर्नल एम एस कालरा, मेजर सुनील काबिया, कैम्प एडजूटैन्ट कैप्टन पंकज शर्मा, सूबेदार मेजर जे0 पी0 शर्मा, हेमन्त चन्द्रा आदि उपस्थित रहे ।

LEAVE A REPLY