धूमधाम से मनाई गई वीरांगना महारानी लक्ष्मीबाई की जयंती

0
73

झांसी। प्रथम स्वतंत्रता संग्राम की दीपशिखा और झांसी की महारानी वीरांगना लक्ष्मीबाई का जन्मदिवस 19 नवम्बर को एक महोत्सव के रुप में महानगर में मनाया गया। इस दौरान विभिन्न संगठनों द्वारा अलग अलग कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। वहीं महानगर के चौराहों को दुल्हन की तरह सजाया गया।
इसी क्रम में महारानी लक्ष्मी बाई की जयंती पर जीवन धारा फाउंडेशन के तत्वावधान में स्थानीय होटल में कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिसमें रानी लक्ष्मीबाई की तस्वीर वितरण की। संस्था के अध्यक्ष प्रदीप तिवारी ने लोगों को रानी की जयंती की शुभकामनाएं दीं और रानी से जुड़े संस्मरणों पर चर्चा की। कार्यक्रम में अर्पित सेठ, सोम तिवारी, आलोक बिलगैयां, श्याम बुधौलिया, शालिनी गुरबख्सानी, पूनम डे, पराग गुप्ता, बलराम राजपूत, विवेक सेठ, समीर तिवारी, आदित्य साहू, राजेश गुप्ता, विकास चैहान आदि उपस्थित रहे।


झाँसी की रानी वीरांगना लक्ष्मी बाई की जयंती के अवसर पर वाणिज्य विभाग द्वारा झाँसी स्टेशन स्थित झाँसी की रानी की प्रतिमा पर दीप प्रज्ज्वलित कर भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गयी। इस दौरान विपिन कुमार सिंह वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक द्वारा उनके शौर्य गाथा पर प्रकाश डाला गया तथा दीप प्रज्ज्वलित करते हुए ऐसे अच्छे काम करने को कहा गया ताकि आपको अनगिनत वर्षों तक याद किया जाए। इस अवसर पर जनसंपर्क अधिकारी मनोज कुमार सिंह, प्रदीप सिंह, अरुण सचान, मो. उमर, मुकेश श्रीवास्तव आदि उपस्थित रहे।


वहीं वीरांगना के जन्म दिवस की पूर्व संध्या पर विभिन्न संगठनों की महिलाओं ने दो पहिया वाहन रैली निकाल कर बताया कि वीरांगना की भूमि से हैं वह भी कम नहीं हैं। इस दौरान महिलाओं ने पगड़ी पहनी हुई थी और कईयों ने रानी का स्वरुप तक धारण किया हुआ था। रैली के बाद महिलाओं ने रानी को पुष्पांजलि अर्पित की।

इस दौरान महाराष्‍ट्रियन समाज के लोगों ने पुणे से आगरा लौटते हुए झांसी में महारानी लक्ष्‍मी बाई के किले पर जयंती मनाई।

अन्‍य संगठन

LEAVE A REPLY