लंबित मामलों का शीघ्र किया जाए पर्दाफाश : एसएसपी

0
176

झाँसी। सोमवार को आयोजित अपराध समीक्षा बैठक में पुलिस कप्तान विनोद कुमार सिंह के तेवर तल्ख रहे। जनपद में बीते दिनों हुई घटनाओं की चर्चा करते हुए कप्तान ने कहा कि कानून-व्यवस्था को चुस्त-दुरुस्त बनाना सर्वोच्च प्राथमिकता है। इसमें लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

नतीजा न देने वाले थानेदारों को कुर्सी छोड़नी होगी। उनकी जगह पुलिस लाइन में होगी। पुलिस लाइन कार्यालय कक्ष में आयोजित बैठक के दौरान कप्तान ने कहा कि कानून-व्यवस्था कायम रख अपराध नियंत्रित करना पुलिस का काम है और यही शासन की प्राथमिकता भी है। अपनी कार्यशैली में बदलाव लाकर पुलिस अपराध पर अंकुश लगाने को तत्पर रहें। ताकि समाज में सकारात्मक बदलाव नजर आ सके। कर्तव्य पालन के प्रति लापरवाही किसी भी दशा में बर्दाश्त नहीं की जाएगी। पुलिस कप्तान ने कहा कि अभियान चलाकर जनपद में सक्रिय व चिन्हित अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। हत्या तथा लूट के लंबित मामले के निस्तारण में तेजी लाने का निर्देश देते हुए कहा कि ऐसे मामलों में देरी से पुलिस की छवि प्रभावित होती है। इन मामलों से जुड़े मुकदमों की विवेचना में तेजी लाई जाए, जिससे कि अपराधियों को सजा दिलाई जा सके। अवैध खनन व शराब के धंधे में लिप्त लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। एंटी रोमियो स्क्वायड नियमित रूप से स्कूल, कालेज तथा कोचिंग संस्थानों के आस-पास सघन चेकिंग कर मनचलों के खिलाफ कार्रवाई सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि दीपावली, छठ का त्योहार नजदीक है, इसे लेकर विशेष सर्तकता बरती जाए। साथ ही उन्होंने मध्य प्रदेश में होने जा रहे विधानसभा चुनाव के मद्देनजर अपराधियों का चिह्नीकरण करने के निर्देश दिए। इससे पूर्व आयोजित सैनिक सम्मेलन के दौरान कप्तान ने पुलिसकर्मियों को सुनकर उनकी समस्याओं को प्राथमिकता के आधार पर निस्तारित कराने का आश्वासन दिया। इस अवसर पर अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण कुलदीप नारायण, एसपी सिटी देवेश कुमार पांडेय आदि उपस्थित रहे।

जेल से बाहर आए अपराधियों पर रखें नजर

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार ने कहा कि जेल से बाहर आए अपराधियों पर विशेष नजर रखें। अगर वे अपराध कर रहे हैं, तो सख्ती से पेश आएं और गिरफ्तार कर जेल भेजें। पूर्व में हुई लूट की घटनाओं के जल्द से जल्द खुलासे का निर्देश दिया। साथ ही कहा कि छोटी-छोटी घटनाओं को गंभीरता से लें, अगर कहीं झगड़ा-फसाद की सूचना आ रही हैं तो थानेदार मौके पर जाकर मामले को शांत कराएं। क्योंकि छोटे-छोटे मामले ही बाद में बड़ा रूप ले लेते हैं। रात के पहर गश्त पर दोनों अधिकारियों ने जोर दिया। ठंड का मौसम शुरु होते ही चोरी की घटनाएं बढ़ जाती हैं, ऐसे में सतर्क रहें।

LEAVE A REPLY