जिम्‍मेदारियों के निर्वहन में लापरवाही पर होगी कार्रवाई : मण्‍डलायुक्‍त

0
172

झांसी। उत्तर प्रदेश शासन के मुख्य सचिव की अध्यक्षता में दो एवं तीन फरवरी को आयोजित होने वाली बैठक व निरीक्षण कार्यक्रमों के लिए सभी सम्बन्धित अधिकारी व्यापक तैयारियां पहले से सुनिश्चित कर लें। यह देख ले कि कहीं कोई कमी न रहने पाये। कमी पाये जाने व अपने कर्तव्यों के प्रति लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही मौके पर ही की जाएगी। उक्तत निर्देश मण्डलायुक्त झांसी मण्डल श्रीमती कुमुदलता श्रीवास्तव ने मुख्य सचिव उप्र शासन की झांसी एवं चित्रकूटधाम की आयोजित होने वाली बैठक के क्रम में अधिकारियों को दिए।
उन्होंने कहा कि मुख्य सचिव उप्र शासन दो फरवरी को पूर्वान्ह 10 से 11 बजे तक सांसद, विधायकगण, जनप्रतिनिधियों से भेंट, पूर्वान्ह 11 बजे से अपरान्ह 1 बजे तक कानून व्यवस्था की समीक्षा, अपरान्ह 1 से 2 बजे तक मध्यान्ह भोजन, अपरान्ह 2 से 5 बजे तक विकास कार्यो की समीक्षा नगर निगम के कार्यालय में स्थित सभाकक्ष में करेंगे। इसके पश्चात वहीं प्रेस प्रतिनिधियों से वार्ता करेंगे। 3 फरवरी को पूर्वान्ह 10 बजे से एक ग्राम का निरीक्षण, अपरान्ह 1 से 2 बजे तक माध्यान्ह भोजन के पश्चात रवाना होगें। उन्होंने तैयारियों की समीक्षा करते हुए सुरक्षा व्यवस्था, रूट व्यवस्था, ट्रैफिक व्यवस्था, पार्किंग व्यवस्था, खान-पान आदि की समीक्षा की व अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिन अधिकारियों को जो जिम्मेदारी सौपी गयी है। वह उसका भली भांति निर्वहन करेंगे। उन्होंने सभी सम्बन्धित अधिकारियों को सभी आवश्यक व्यवस्थाएं कर अवगत कराने के निर्देश दिये। बैठक में पुलिस उप महानिरीक्षक जवाहर, अपर आयुक्त प्रशासन उर्मिला सोनकर खाबरी, अपर आयुक्त रियाज अख्तर, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जे.के शुक्ला, एडीएम प्रशासन हरीशंकर, एडीएम वि./रा. विजय बहादुर सिंह, नगर आयुक्त प्रताप सिंह भदौरिया, नगर मजिस्ट्रेट सीपी तिवारी, संयुक्त विकास आयुक्त लालजी यादव, सहायक निदेशक सूचना सुधीर कुमार आदि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY