एनसीआरईएस ने पीएनएम की बैठक को बीच में छोड़ा

0
602

झांसी। नार्थ सेंट्रल रेलवे एंप्लाइज संघ (एनसीआरईएस) की झांसी मंडल रेल प्रशासन के साथ स्थाई वार्ता तंत्र (पीएनएम) की सभा चल रही थी, जिसमें रेल प्रशासन के रवैये से व्‍यथित होकर एनसीआरईएस के पदाधिकारियों ने हंगामा करते हुए बैठक को बीच में छोड़ दिया। पदाधिकारियों ने रेलवे अधिकारियों पर पुराने मुद्दों के निराकरण न किए जाने का आरोप लगाया।
बता दें कि हर बार पीएनएम की बैठक में कर्मचारी हितों के मुद्दों को रखा जाता है और कर्मचारियों की समस्‍याओं के निराकरण को लेकर रेल अधिकारियों के साथ मिलकर समाधान खोजा जाता है। विगत कई वर्षों से यह बैठक औपचारिकता मात्र रह गई है, जिससे कर्मचारी पहले से ही नाराज चल रहे हैं। गुरुवार को भी ऐसा ही हुआ बैठक में इस बार 139 मुद्दों पर चर्चा की जानी थी, जिनमें से कई मुद्दे वर्ष 2013 से लंबित चल रहे थे। रेल प्रशासन द्वारा समाधान को लेकर गंभीरता नहीं दिखाई जा रही थी और मुद्दों को लेकर कोई निराकरण की स्‍थिति नहीं बन पा रही थी। ऐसे में संघ ने रेल अधिकारियों के रुख को देखते हुए लम्बित मुददों के निराकरण नहीं होने पर आपत्ति दर्ज करायी। इसके बाद भी अधिकारियों द्वारा उपेक्षात्मक रवैया बरकरार रखा गया। रेल प्रशासन द्वारा समाधान में आवश्यक गम्भीरता नहीं दिखाई जाने पर संघ के नेता भडक गए और उन्‍होंने बैठक को बीच में ही छोड़ दिया।
उसके बाद मंडल कार्यालय पर संघ पदाधिकारियों की सभा हुई, जिसमें समस्याओं की रणनीति पर चर्चा की गई। इस मौके पर मंडल अध्यक्ष रामकुमार सिंह, मंडल सचिव बीजी गौतम, मंडल उपाध्यक्ष वीके सिंह, जेके चौबे, मंडल संगठक केपी सिंह, सहायक मंडल सचिव नीलम सिंह, मंडल कोषाध्यक्ष लालजी सिंह चौहान के साथ शाखाओं के सचिव राजेश त्रिपाठी, महेंद्र सैन, आरडी सचान, एसके सिंह, आरपी यादव, केएस शुक्ला, गौरव श्रीवास्‍तव आदि उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY