स्टूडेण्ट्स को फिट रखने के लिए लगाएंगे स्कूलों में शिविर

0 स्वास्थ्य से स्वस्थता की ओर विषय पर स्वास्थ्य शिविर और विचार संगोष्ठी हुई

0
92

झांसी। स्टुफिट (स्टूडेंट फिट) अप्रोच प्राइवेट लिमिटेड झांसी के तत्वावधान में खातीबाबा स्थित एक कालेज झांसी में स्वास्थ्य से स्वस्थता की ओर विषय पर विचार गोष्ठी आयोजित की गई। षिविर में भारत सरकार की राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अन्तर्गत चलायी जा रही अनेकों योजनाओं पर प्रकाश डाला और योजना की जानकारी दी।

अध्यक्षीय भाषण में कालेज के प्रबंधक परवेज मुख्तार ने कहा कि देश में लगातार बढ़ती हुई निरंकुश आबादी एक ओर जहाँ प्राकृतिक संसाधनों को अस्त व्यस्त कर रही है। वहीं भागदौड़ भरी अनियमित जीवन शैली ने आम जन के मानसिक एवं शारीरिक स्तर पर नकारात्मक प्रभाव भी डाला है। देश को एक ओर जहाँ तकनीक एवं प्रबंधन में विश्वस्तरीय ख्याति प्राप्त हो रही है, वहीं दूसरी ओर पोषण एवं स्वास्थ्य का गिरता हुआ स्तर मुँह चिढ़ाता हुआ नजर आता है। स्टुफिट कम्पनी के संस्थापक निदेशक डा. सैयद शुजाअत हैदर जाफरी ने भारत सरकार द्वारा राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अन्तर्गत चलायी जा रही अनेकों योजनाओं पर प्रकाश डालते हुए कहा कि इन योजनाओं का उद्देश्य ही यही है कि देश में पोषण एवं स्वास्थ्य स्तर में सुधार लाया जाए। उक्त मिशन से प्रेरणा लेते हुए ही स्टुफिट अप्रोच प्राइवेट लिमिटेड ने उत्तर प्रदेश के नगर क्षेत्र के प्राइवेट स्कूल में पढ़ने वाले 4 से 18 वर्ष की आयु वाले समस्त बच्चों के सम्पूर्ण स्वास्थ्य जाँच मिशन आरम्भ किया। इस मिशन के अन्तर्गत उत्तर प्रदेश के प्रत्येक जिले में दो से चार मोबाइल हेल्थ टीम होंगी, जोकि हर प्राइवेट स्कूल में जाकर बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण करेंगी और परीक्षण के दौरान यदि कोई बच्चा षल्य चिकित्सा हेतु सामने आता है, तो उसकी शल्य चिकित्सा का खर्च कम्पनी द्वारा वहन किया जाएगा।
डा. सैयदा सबिहका आब्दी ने स्टुफिट कम्पनी के विषय में बताया कि प्रत्येक टीम में एक एक मेडिकल अफसर, दन्त चिकित्सक, फिजियोथैरेपिस्ट, ओप्टोमेट्रिस्ट, औडियोलोजिस्ट/ स्पीच थेरेपिस्ट, पोषण विशेषज्ञ, काउंसलर कोऑर्डिनेटर एवं डाटा एंट्री आपरेटर रहेंगे। बच्चों की जाँच टीम द्वारा एक सॉफ्टवेयर के अंतर्गत की जाएगी, जिससे कि हर बच्चे का एक यूजर आई डी एवं पासवर्ड बनेगा। इच्छुक अभिभावक स्टुफिट की मोबाइल एप्प के माध्यम से अपने बच्चे का यूजर आई डी एवं पासवर्ड डालकर डिजिटल हेल्थ कार्ड प्राप्त कर सकते है। शिविर में मुख्य रूप से डा. मोनिका मिश्रा, डा. एस पी सिंह, डा. श्रुति श्रीवास्तव, डा. हिना अली, डा. नेहा चतुर्वेदी, डा. अमितेष श्रीवास्तव, डा. शिव कुमार पटेल, डा. बिलाल जाफरी एवं आबिद रजा ने 242 बच्चों का स्वास्थ परीक्षण किया। साथ ही उनके निरोगी काया के लिये उचित दिशा निर्देश दिये। संचालन डा. हिना अली और डा. बिलाल जाफरी ने संयुक्त रूप से किया। अंत में डा. नेहा चतुर्वेदी और डा. अमितेष श्रीवास्तव ने आभार ज्ञापित किया।

LEAVE A REPLY