आठ प्रत्‍याशियों की है आपराधिक पृष्‍ठभूमि : जिला निर्वाचन अधिकारी

** विशेष व्यय प्रेक्षक भारत निर्वाचन आयोग द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जनपद के कार्यों की हुई समीक्षा ** समीक्षा के दौरान धनराशि एवं शराब जब्तीकरण में तेजी लाए जाने के दिए निर्देश ** संदेहास्पद बैंक ट्रांजैक्शन के संबंध में भी कार्यवाही किए जाने के निर्देश ** जिला निर्वाचन अधिकारी/ जिलाधिकारी ने दी जनपद में अब तक की गई कार्यवाही की बिंदुवार जानकारी

0
112

झांसी। आज विशेष व्यय प्रेक्षक, भारत निर्वाचन आयोग द्वारा वीसी के माध्यम से जनपद में निर्वाचन के दौरान की गई कार्रवाई क्यों की मामले को लेकर समीक्षा की गई।
वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से विशेष व्यय प्रेक्षक द्वारा धनराशि एवं शराब जप्तीकरण में तीव्रता लाये जाने, सिफ्टवार तैनात एस.एस.टी. टीम द्वारा रजिस्टर व्यवस्थित किये जाने, रात्रि के समय भ्रमणशील रहकर सतत दृष्टि रखे जाने, संदेहास्पद बैंक टान्जेक्शन के सम्बन्ध में कार्यवाही किये जाने के निर्देश दिये गये। समीक्षा के दौरान जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी रविंद्र कुमार ने विशेष व्यय प्रेक्षक को बताया गया कि जनपद झाॅसी में 04 विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र हैं, जिसमें से कोई भी व्यय संवेदनशील (Expenditure sensitive) नहीं है। जनपद झाॅसी की सीमा 06 म.प्र. एवं 04 उ.प्र. के जिले से लगती हैं तथा झाॅसी में 42 अन्तर्राज्यीय, 11 अन्तर्जनपदीय सीमायें तथा 11 घाट हैं जिन पर पुलिस बल एवं तैनात एस.एस.टी./एफ.एस.टी. टीम द्वारा निगरानी रखकर चेकिंग की जा रही है।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि जनपद में 36 नाका बनाये गये हैं तथा 36 एस.एस.टी., 36 एफ.एस.टी., 08 वीडियो निगरानी एवं 04 वीडियो अवलोकन टीम तैनात है। जनपद झाॅसी में धनराशि जब्तीकरण, शराब जब्तीकरण एवं नारकोटिक्स जब्तीकरण की कार्यवाही संतोषजनक हुई है तथा यह प्रक्रिया सतत् रूप से चल रही है। उन्होंने बताया कि एल.डी.एम. द्वारा प्रस्तुत आंकड़ों के अनुसार 03 संदेहास्पद टान्जेक्शन हुए हैं जिनकी जांच कराने पर 02 टान्जेक्शन बड़े व्यापारियों के तथा 01 प्रोपर्टी खरीदने से सम्बन्धित पाया गया है। उन्होंने बताया कि जनपद में 02 एक्सपेन्डीचर से सम्बन्धित शिकायतें सोशल मीडिया के माध्यम से प्राप्त हुई हैं जिनमें एफ.आई.आर. दर्ज किये जाने की कार्यवाही की गई है। जनपद झाॅसी में 08 प्रत्याशियों की अपराधिक पृष्ठभूमि है, जिसका उनके द्वारा समाचार पत्रों में 03 बार प्रकाशन कराया जा चुका है। उन्होंने यह भी अवगत कराया कि जनपद झाॅसी के लगे हुये उ.प्र. एवं म.प्र. के जिलाधिकारियों एवं पुलिस अधीक्षकों के साथ निर्वाचन सकुशल सम्पन्न कराये जाने हेतु बाॅर्डर मीटिंग की जा चुकी है। एनआईसी कक्ष में आयोजित वी.सी. में संयुक्त आयुक्त, वाणिज्य कर विभाग द्वारा मा. प्रेक्षक को बताया गया कि उनके विभाग द्वारा लगातार क्षेत्र में भ्रमण किया जा रहा है एवं संदेहास्पद वाहनों को रोककर उनकी जांच की जा रही है। मा.प्रेक्षक द्वारा निर्देश दिये गये कि उनके द्वारा की गई कार्यवाही की रिपोर्टिंग व्यय प्रेक्षक को नियमित रूप से की जाए। वी.सी. में जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी, झाॅसी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, झाॅसी, व्यय प्रेक्षक, भारत निर्वाचन आयोग, अपर जिलाधिकारी, न्यायिक/नमामि गंगे, संयुक्त आयुक्त वाणिज्य कर विभाग, आयकर अधिकारी एवं अग्रणी जिला प्रबंधक द्वारा प्रतिभाग किया गया।

LEAVE A REPLY