मकर संक्रांति पर चार राशियों को धन लाभ

0
168

झाँसी। मकर संक्रांति रविवार 14 जनवरी को मनाई जाएगी। इस बार मकर संक्रांति को लेकर पंचांग भेद सामने आए हैं। कुछ पंचांग में सूर्य का राशि परिवर्तन 14 जनवरी की दोपहर 2 बजे के बाद होगा, जबकि कुछ पंचांग में रात 8 बजे बाद सूर्य मकर राशि में प्रवेश करेगा। हालांकि ज्यादातर पंचांग में 14 जनवरी को ही मकर संक्रांति मनाना श्रेष्ठ बताया गया है। इस दिन सूर्य उत्तरायण होगा, साथ ही सर्वार्थ सिद्धि और पारिजात योग भी बन रहा है। ये योग शुभ और मंगलकारी माने जाते हैं। इस योग के असर से 12 में से चार राशियों को विशेष लाभ होने वाला है।
इस समय सूर्य के धनु राशि में होने से सभी शुभ काम वर्जित हैं, लेकिन सूर्य के मकर राशि में प्रवेश करते ही सभी मांगलिक कार्य किए जा सकेंगे। मकर संक्रांति से खरमास समाप्त हो जाएगा। रविवार की दोपहर से सर्वार्थ सिद्धि योग शुरू होगा। इस योग में किए शुभ काम सिद्ध हो जाते हैं। इसके साथ ही 14 जनवरी को त्रयोदशी तिथि में गुरु और मंगल ग्रह तुला राशि में एक साथ रहेंगे, जिससे पारिजात योग बनेगा। ये दोनों ही योग दुर्लभ और मंगलकारी हैं।

यह रहेगा राशियों पर असर

ज्योतिषियों के अनुसार मेष राशि वालों को इस दिन धर्म लाभ मिलेगा और कार्यों में सफलता मिलेगी। वृष राशि के लोगों को रोग होने के योग हैं। अनजाना भय रहेगा। सूर्य को जल चढ़ाएं। मिथुन राशि के लिए धन का अपव्यय होने के योग हैं। मान-सम्मान प्राप्त होगा। कर्क राशि के लोगों को शारीरिक कष्ट हो सकता है। इष्टदेव की पूजा करें और गरीबों को धन का दान करें। सिंह राशि के लोगों को शासकीय कार्यों में लाभ मिल सकता है। कन्या राशि वालों के घर-परिवार में वाद-विवाद हो सकते हैं। यात्रा में कष्ट हो सकता है। गाय की हरी घास खिलाएं। तुला राशि के लोगों को लाभ मिलने के योग हैं, लेकिन मानसिक कष्ट भी हो सकता है। वृश्चिक राशि के लोगों को नौकरी में कोई पद लाभ मिल सकता है, जिससे संतोष रहेगा। धनु राशि के व्यक्तियों का किसी करीबी रिश्तेदार से विवाद हो सकता है। गरीबों को काले तिल का दान करें। मकर राशि के लोगों के वैवाहिक जीवन में कलह हो सकती है। जीवन साथी के साथ किसी पवित्र नदी में स्नान करें। कुंभ राशि वालों का मानसिक तनाव बढ़ सकता है। शिवलिंग पर काले तिल चढ़ाएं। मीन राशि वालों के घर-परिवार और समाज में मान सम्मान बढ़ेगा।

LEAVE A REPLY